Sir Dard ka Ilaj in Hindi | सिर दर्द का ईलाज हिंदी में

Spread the love
Sir Dard ka Ilaj in Hindi
Sir Dard ka Ilaj in Hindi

Sir Dard ka Ilaj in Hindi | सिर दर्द का ईलाज

Sir Dard ka Ilaj in Hindi:सिर दर्द की समस्या लोगों के लिए आजकल सिर दर्द ही बन चुकी है। पहले के समय में बहुत कम लोग ऐसे होते थे जिनको सिर दर्द की समस्या होती थी लेकिन अब हर दूसरा व्यक्ति इससे पीड़ित दिखाई देता है। यह इस लिए ज्यादा फैला है क्योकि लोगों ने अपना लाइफस्टाइल ऐसा कर लिया है। जिससे उनको यह समस्या हो जाती है। यह ज़्यादातर ऑफिस में काम करने वाले लोगों को होता है लेकिन घर पर काम करने वाली महिलाएँ भी इससे अछूती नहीं है। कुछ ख़ास वजह होती है जिनकी वजह से यह ज्यादा होता है। सिर दर्द की भी अलग अलग श्रेणी होती है।

सिर दर्द के प्रकार

इसकी पहली श्रेणी में वो लोग आते है जिनको सिरदर्द स्ट्रेस के कारण आया है। दूसरी श्रेणी में साइनस से रिलेटेड सिरदर्द आता है जिन व्यक्तियों को जुखाम के कारण साइनस बना हो तो इससे भी सिरदर्द हो जाता है। सिरदर्द की बहुत खतरनाक श्रेणी कह सकते है जिसका नाम है माइग्रेन जितना इसका नाम मुश्किल है उतना ही यह ज्यादा खतरनाक और दर्द वाला होता है। इस सिरदर्द में आपको भयंकर सिर में दर्द होता है यह दर्द लगातार कुछ घंटो तक भी चलता रह सकता है।

सिर दर्द होने के कारण

सिरदर्द होने के कुछ अन्य कारण भी हो सकते है जैसे सिर की कोई चोट जो आपको बचपन में लगी हो। आप याद करो बचपन में आपको कोई चोट तो नहीं लगी थी क्योकि इससे भी आपको सिरदर्द हो सकता है।  अगर आप टीवी में बहुत ज्यादा सीरियल या फिर सास बहू के नाटक देखने के शौकीन है तो उस टाइम तो आपको उसमे बहुत मज़ा आएगा लेकिन बाद में यही मज़ा सिर दर्द के रूप में सज़ा बन सकती है। इसलिए आपको इस सजा से बचने के लिए ज़्यादा सीरियल देखना छोड़ ही दे तो अच्छा है।

आपके घर के आस पास या फिर ऑफिस में कोई बहुत तेज़ आवाज़ से स्पीकर तो नहीं चलता रहता क्योकि इस स्पीकर की तेज़ आवाज़ से भी आपको सिरदर्द सता सकता है। आपको अपने चैन और सिरदर्द के लिए उसको आज ही बोलना होगा स्पीकर बंद करने के लिए क्योकि तभी आप इससे निजात पा सकेंगे।

यदि आप ऑफिस से आते आते लेट हो जाते है आपका ऑफिस बहुत दुरी पर है और आपको सुबह भी जल्दी उठ कर जाना पड़ता है तो आप सही से रात की नींद भी नहीं ले पाते और रात को 6 घंटे की नींद भी नहीं पूरी कर पाते तो यह भी आपके सिरदर्द के लिए न्यौता जैसा है।

आप जब सही से रात को सो ही नहीं पाते तो ऐसे काम से क्या फ़ायदा आपको कुछ भी करके रात को कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए। पूरी नींद लेने पर ही आपके दिमाग़ की थकान दूर हो पाएगी और आप दूसरे दिन सही से ऑफिस में काम कर पाएंगे और यह आपको सिरदर्द से भी बचाएगा।

आपको सिर के दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कुछ घरेलु नुस्ख़े बता रहे है जिनका आपको पालन करना है यदि आप इससे मुक्त होना चाहते है।

Sir Dard Ka Ilaj | सिर दर्द का ईलाज

चन्दन के बारे में तो आप सब जानते होंगे जो अक्सर आप पूजा में चन्दन का टीका लगाने के लिए प्रयोग करते है। आपको चन्दन की लकड़ी को पंसारी की दुकान से लेकर आना है अब इस लकड़ी को अच्छे से पानी के साथ घिस कर लेप तैयार करना है। यह लेप ही आपके सिर का दर्द दूर करेगा।

अब आपको सन्यासियों की तरह इस लेप को अपने पुरे माथे पर लगा लेना है इसको आप 40 मिनट तक लगाकर रखना है। आप चाहे तो और ज़्यादा देर तक भी लगाकर छोड़ सकते है। यह आपके सिरदर्द को हर लेगा। आपने कभी सन्यासियों को जो सिर पर चन्दन मलते है सिरदर्द से परेशान देखा है ऐसी ताकत है चन्दन की।

सिरदर्द होने पर आप अपने सिर पर  बर्फ़ के टुकड़े का प्रयोग भी कर सकते है। आपको फ्रीज़र में रखी क्यूब वाली बर्फ़ लेनी है अब इसको किसी साफ़ से कपडे में लपेट कर अपने माथे के चारों तरफ़ थोड़ी देर घुमाना है। इससे आपको बहुत तेज़ सिरदर्द में और चुभन में राहत मिलेगी।

आपने इस बात का भी ध्यान किया होगा की जब आप भूखे होते है तो आपका सिरदर्द करने लग जाता है। जब आप अपना खाना समय पर नहीं खाते या फिर एक टाइम के  खाने को छोड़ देते है तो इससे भी आपको सिरदर्द की शिकायत हो सकती है। ऐसे लोगों को अपने खाने को समय समय पर खाना चाहिए और बीच में कोई गैप नहीं देना चाहिए।

आपको पानी भी दिन में भरपूर मात्रा में पीना चाहिए। पानी में मौजूद ऑक्सीजन ब्लड में जाकर दिमाग तक ऑक्सीजन पहुँचाती है और इसकी कमी से आपके मस्तिष्क को पूरी ऑक्सीजन नहीं मिल पाता और सिरदर्द का कारण हो सकता है।

आपको सिरदर्द के लिए तुलसी के पत्तों की चाय को पीना चाहिए। यह भी सिरदर्द से राहत प्रदान करने के लिए बहुत गुणकारी होती है। तुलसी में रोगों से लड़ने के बहुत से गुण होते है। आपको 5 से 6 तुलसी के पत्तों को लेकर पानी से धो कर चाय में डाल कर उबालना है फिर इसको आप घूट घूट करके पी सकते है। इससे आपको सिरदर्द में एकदम से राहत मिलेगी।

आप अपने सिरदर्द को दूर करने के लिए एक्यूप्रेशर का सहारा भी ले सकते है। एक्यूप्रेशर में शरीर के कुछ ऐसे खास बिंदुओं को दबाते है जिससे रोगों से राहत मिले। आपको सिरदर्द के लिए अपने उल्टे हाथ के अंगूठे और पहली ऊँगली के बीच की जगह को कुछ देर के लिए दबाना है। इसके रोज़ाना अभ्यास से आपको सिर और माइग्रेन के दर्द से राहत मिलेगी।

आपको सिरदर्द में लाभ के लिए मेडिटेशन का सहारा भी लेना चाहिए। मैडिटेशन आप सुबह के शांत वातावरण में कर सकते है।

Sir Dard ka Ilaj in Hindi

Final words:

हम उम्मीद करते है की यहाँ बताये गए सभी घरेलु नुस्खे सिरदर्द के ईलाज, आधा सिरदर्द और माइग्रेन से छुटकारा पाने के लिए आपको पसंद आये होंगे। आप इस जानकारी को अपने परिचितों के साथ शेयर कर सकते है। जिससे वही भी इस जानकारी का लाभ उठा सके।

Read also:

Acidity Home Remedies Hindi | एसिडिटी के लिए घरेलु इलाज

Best पेट और कमर की चर्बी कम करने के उपाय | Pet Aur Kamar Ki Charbi Kam Karne Ke Upay

Pet Kam Karne Ki Exercise Machine | पेट कम करने की एक्सरसाइज मशीन

7 लेटे लेटे बाल लंबे करने का तरीका | Lete Late Baal Lambe Karne Ka Tarika

2 thoughts on “Sir Dard ka Ilaj in Hindi | सिर दर्द का ईलाज हिंदी में”

  1. I definitely wanted to type a remark to be able to say thanks to you for these remarkable guides you are writing here. My time consuming internet investigation has at the end of the day been honored with reputable content to write about with my pals. I would point out that most of us visitors actually are unquestionably lucky to exist in a really good site with many outstanding individuals with useful solutions. I feel quite happy to have seen the site and look forward to tons of more fun minutes reading here. Thank you once again for everything.

    Reply

Leave a comment

close