Weight Loss Tips in Hindi

Best Weight loss tips in Hindi | वज़न कम करने के लिए आहार योजना

Spread the love
Weight Loss Tips in Hindi
Weight Loss Tips in Hindi

Weight Loss Tips in Hindi

बहुत से लोग आज के समाज में मोटापे से पीड़ित है। 30 से 40 उम्र के लोग सबसे ज़्यादा इसके शिकार है लेकिन कम उम्र के युवा भी इससे पीड़ित दिखाई देते है। यह एक बहुत तेज़ी से बढ़ती हुई समस्या है जिसका सही रूप से निदान बहुत आवशयक है। ऐसे लोगों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है।

Motape ka karan kya hai?

मोटापे का मुख्य कारण आजकल का खानपान है। आजकल लोग बाहर का खाना ज्यादा पसंद करते है। जो की मैदा तेल आदि का बनता है जो शरीर में मोटापा बढ़ाता है। आजकल के युवा हैल्थी फ़ूड को छोड़ कर मार्किट के बर्गर, पिज़्ज़ा, चौमिन, मोमोस और गोल गप्पों के पीछे पड़े है। यह सब पढ़ कर आपके मुँह में भी जरूर पानी आ गया होगा। यह चीज़ ही ऐसी है जिसके कारण लोग इसको खाने का लालच नहीं छोड़ पाते और मोटापे की और अग्रसर हो जाते है।

सबसे पहले तो आपको मोटापे से छुटकारा पाने के लिए इन सब चीज़ो को पूरी तरह से छोड़ना होगा। इसके बाद हम जो  आहार योजना आपको बता रहे है उसका आपको पूरी ईमानदारी के साथ पालन करना है। यह जो डाइट प्लान है यह इतना अच्छा है की आप इससे न केवल अपने बढ़ते वजन को कम कर सकते है बल्कि आप इससे अपनी हर प्रकार की बीमारी को भी दूर कर सकते है।

पेट साफ़ करना

सबसे पहले इसको शुरू करने से पहले आपको अपने पेट को पूरी तरह से साफ़ करना होगा। जिसके लिए आप रात को सोते समय 1 गिलास गुनगुने पानी को एक चम्मच त्रिफला चूर्ण के साथ ले सकते है। यह इतना अच्छा है की इससे आपका पेट सुबह पूरी तरह से साफ़ हो जायेगा। यदि आपको काफी समय से कब्ज़ की शिकायत है तो आप इसे कुछ दिनों तक ले सकते है।

शुद्ध शाकाहारी भोजन का प्रयोग

आपको इस डाइट प्लान के लिए ऐसे भोजन का प्रयोग करना है जो सीधे धरती से पैदा हो जिस प्रकार आप टमाटर , आलू, शाकाहारी सब्जियों का सेवन कर सकते है आपको किसी भी प्रकार के माँसाहारी भोजन का सेवन नहीं करना है। इसके साथ आपको कोई भी ऐसे भोजन का सेवन नहीं करना है जो प्रोसेस्ड फ़ूड हो जो की फैक्ट्री से प्रोसेस्ड हो कर आया हो। आपको किसी भी प्रकार के डिब्बाबंद खाने का प्रयोग भी नहीं करना है।

डिब्बाबंद खाने से परहेज़

यह डिब्बाबंद खाना भी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही हानिकारक होते है जिसको केमिकल का प्रयोग करके पैक किया जाता है जिससे यह 1 से 2 साल तक ख़राब न हो। आपको इस प्रकार के किसी भी भोजन का सेवन नहीं करना है। आप किसी प्रकार के पैकेट वाले दूध की जगह नारियल का दूध का प्रयोग कर सकते है।

पानी वाले फलों का प्रयोग

इसके साथ साथ आपको इस आहार योजना में पानी से भरपूर फलों का सेवन करना है क्योकि हमारे शरीर को ठोस से ज़्यादा पानी वाले खाने की जरुरत ज्यादा होती है। हमारा शरीर भी 70% पानी का ही बना होता है। आप पानी वाले फलों में संतरे, मौसमी, तरबूज, खरबूज और अंगूर जैसे फलों का सेवन कर सकते है।

16 घंटे का व्रत

आप इस आहार योजना में इस बात का ख्याल रखना है की आपको इसमें 16 घंटे का व्रत रखना है इसमें आपको 16 घंटे कुछ भी नहीं खाना है। जिस प्रकार यदि आप रात का भोजन 7 pm को करते है तो आपको सुबह का नाश्ता 11 am बजे करना है। यदि रात का भोजन 6 pm को करते है तो आपको सुबह का भोजन 10 am को करना है। इस प्रकार आप 16 घंटे वाले नियम का पालन कर पाएंगे। आपको इस आहार योजना में दिन में 5 बार भोजन करना है।

1. पहला भोजन (First meal motapa ghatane ke liye)

सबसे पहला भोजन डेटॉक्स जूस की तरह होगा। इसमें आप लौकी के जूस का सेवन कर सकते है आपको पहले लौकी को अच्छे से साफ़ करके इसमें से बीज निकाल देने है फिर इसका जूस तैयार करना है यह जूस आप सुबह 9 बजे ले सकते है। आपको इसमें लगभग 300 ml जूस का प्रयोग करना है। आप लौकी के जूस की जगह नारियल पानी का भी प्रयोग कर सकते है।

2. दूसरा भोजन (Second meal motapa kam karne ke liye)

इसके बाद आप दूसरा भोजन सुबह 11 बजे इस डेटॉक्स जूस को लेने के 2 घंटे के बाद ले सकते है। इसमें आपको कोई भी मौसमी फल को लेना है। आप इसमें अच्छे से बड़ी प्लेट को भर कर इन फलों का प्रयोग कर सकते है।

3. तीसरा भोजन (Third meal vajan kam karne ke liye)

इसके बाद आप तीसरा भोजन 2 बजे कर सकते है जिसमे आप चोकर युक्त आटे की रोटी बना सकते है लेकिन इस रोटी में खास बात यह होगी की यह आधी सब्जियों की बनी होगी।

आप सब्जी बनाने के लिए ताज़ा सब्जियों का प्रयोग कर सकते है इसमें आपको तेल की जगह नारियल को घिस कर डालना है सब्ज़ी में कोई तेल प्रयोग नहीं करना है। आप जितनी रोटी लेंगे उससे 2 गुणा सब्जी का प्रयोग करना है। यदि आप 2 रोटी लेते है तो आपको 4 कटोरी सब्जी खानी है।

यह भी पढ़े: How to gain weight | वज़न कैसे बढ़ाये

4. चौथा भोजन (Fourth meal motapa kam karne ke liye)

चौथा भोजन आपको 4 बजे लेना है इसमें आपको लौकी का या नारियल का जूस का प्रयोग करना है। इसके 2 घंटे के बाद 6 बजे आपको पांचवा भोजन लेना है।

5. पांचवा भोजन (Fifth meal for weight loss)

जिसमे आप सलाद या सूप का प्रयोग कर सकते है। सलाद में खीरे आदि का प्रयोग आप कर सकते है। आप चाहे तो दिन के भोजन और शाम के भोजन को आपस में बदल भी सकते है। इसके 1 महीने करने से आपका वजन कम से कम 5 से 6 किलो कम हो जायेगा। यह प्रयोग छोटे बच्चों को और खिलाड़ियों को नहीं करना चाहिए क्योंकि उनको ज़्यादा ऊर्जा की आवशयकता होती है। 

यह आपके वज़न को कम करने के साथ बहुत प्रकार की बीमारियों को भी दूर करेगा।