अटल पेंशन योजना | Atal Pension Yojana in Hindi

Spread the love
अटल पेंशन योजना
अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना: दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले है Atal Pension Yojana in Hindi आपको इस लेख में अटल पेंशन योजना से जुडी पूरी जानकारी मिलेगी। जिसको जानकर आप इस योजना का लाभ उठा सके। हम आपको इस योजना की डिटेल के साथ कौन लोग इस योजना का लाभ उठा सकते है यह भी बताएँगे।

अटल पेंशन योजना | Atal Pension Yojana in Hindi

अटल पेंशन योजना भारत सरकार की योजना है। जिसको APY के नाम से जाना जाता है। अटल पेंशन योजना को 9 मई 2015 को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुरे देश में लागु किया था। इस योजना को NPS यानि नेशनल पेंशन स्कीम के तहत रखा गया है। इस योजना का उद्देस्य भारत सरकार का वृद्ध लोगों का जीवन स्तर अच्छा करना है। बहुत से लोग ऐसे प्राइवेट सेक्टर में और गैर संगठित क्षेत्र में काम करते है। जहाँ वह 60 वर्ष की आयु तक काम करते है लेकिन उनको पेंशन की सुविधा नहीं होती।

उनको सरकारी नौकरी की तरह 60 वर्ष के बाद सरकार द्वारा पेंशन प्राप्त नहीं होती। इस स्थिति में उनको बुढ़ापे में जीवनयापन में समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे लोगों को अपने परिवार के सदस्यों और दूसरे लोगों पर अपने खर्चे के लिए निर्भर रहना पड़ता है। यदि दूसरे सदस्य उनकी बुढ़ापे में मदद नहीं करते तो उनकी स्थिति दयनीय हो जाती है।

इसी समस्या को देखते हुए सरकार ने ऐसे बुजुर्गों के लिए अटल पेंशन योजना की सुविधा दी है। जिससे गैर संगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोग भी बुढ़ापे के समय में पेंशन का लाभ उठा सके और अपने जीवन के अंतिम दिनों को शान से जी सके। जिससे उन्हें अपने परिवार के दूसरे सदस्यों पर निर्भर न रहना पड़े।

  • अटल पेंशन योजना का लाभ 18 वर्ष से 40 वर्ष के लोग उठा सकते है।
  • इस योजना के लिए उन्हें कम से कम 20 वर्ष तक इस योजना में अपनी सुविधा अनुसार पैसे जमा करने होंगे।
  • अटल योजना से 60 वर्ष की आयु में लाभार्थी को 1000 रूपए से लेकर 5000 रूपए महीने की पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।
  • इस योजना में भारत सरकार भी अपना योगदान करती है। सरकार हर साल की जमा राशि का 50 % या 1000 रूपए जो भी कम हो अपनी तरफ से ऐसे लोगों को योगदान करती है।

इस योजना का लाभ उठाने के लिए कोई भी भारतीय नागरिक जो गैर संगठित क्षेत्र में काम करता हो बैंक या पोस्ट ऑफिस में संपर्क कर सकता है और इस स्कीम का लाभ उठा सकता है। इस योजना के लिए महीने/3 महीने /6 महीने की क़िस्त बनवा सकते है। आप अपने बचत खाते को भी इससे जोड़ सकते है।

जिससे उसी समय अवधि के अनुसार पैसे आपके अटल पेंशन योजना में ट्रांसफर कर दिए जाये। इस योजना के लाभार्थी की मृत्यु की स्थिति में नॉमिनी को यह राशि पेंशन के रूप में मिलेगी। यदि कोई व्यक्ति हर महीने की किश्त को देने में देरी करता है तो हर 100 रूपए पर 1 रूपए का अलग से देरी का शुल्क देना होगा।

Final Words:

इस तरह आपने इस लेख में जाना अटल पेंशन योजना हिंदी में। आप भी यदि ऐसी जगह काम करते है जहाँ आपको बुढ़ापे में पेंशन मिलने की सुविधा नहीं है तो आप अभी से Atal Pension Yojana के साथ जुड़ सकते है और अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते है। आप अपने दोस्तों के साथ इस लेख को शेयर कर सकते है। जिससे उनको भी इस योजना का लाभ मिल सके।

Read more:

Sukanya Samriddhi Yojana in Hindi 2021 | सुकन्या समृद्धि योजना

PM Ujjwala Yojana 2.0 in Hindi 2021 | प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2.0 हिंदी में

e RUPI Kya Hai in Hindi | e RUPI Ke Kya Fayde Hai

Leave a comment

close